Solar eclipse - wikifeed
पूर्ण सूर्यग्रहण की जानकारी अब पाठ्य पुस्तकों गूगल तक ही सीमित रह सकती है क्योंकि आने वाले लगभग सौ साल बाद वर्ष 2114 में ही भारत के मैदानी भाग में पूर्ण सूर्यग्रहण को देखा जा सकेगा।
Science

भारत में अब 100 साल बाद यानि साल 2114 में देख पाएंगे पूर्ण सूर्यग्रहण

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पूर्ण सूर्यग्रहण की जानकारी अब पाठ्य पुस्तकों गूगल तक ही सीमित रह सकती है क्योंकि आने वाले लगभग सौ साल बाद वर्ष 2114 में ही भारत के मैदानी भाग में पूर्ण सूर्यग्रहण को देखा जा सकेगा।

Solar eclipse • Solar eclipse of July 2, 2019 • Moon • India

पूर्ण सूर्यग्रहण (Solar eclipse) की जानकारी अब पाठ्य पुस्तकों, गूगल (Google) तक ही सीमित रह सकती है, क्योंकि आने वाले लगभग 100 साल बाद साल 2114 में ही भारत India के मैदानी भाग में पूर्ण सूर्यग्रहण (Solar eclipse) को देखा जा सकेगा. इसके पहले 20 मार्च 2034 को भी भारत India में यह खगोलीय घटना होगी, लेकिन इसे कारगिल के दुर्गम पहाड़ों में ही देखा जा सकेगा. यह जानकारी भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान संचारिका सारिका घारू ने रविवार को एक रिपोर्ट के अनुसार बातचीत की.

Solar eclipse - wikifeed

उन्होंने बताया कि इस साल आगामी दो जुलाई को पूर्ण सूर्यग्रहण (Solar eclipse of July 2, 2019) पड़ रहा है, यह दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर और दक्षिण मध्य अमेरिका एवं अजेंटीना में ही दिखाई देगा. इसे भारत में नहीं देखा जा सकेगा, क्योंकि यह भारतीय समयानुसार रात्रि 10.25 बजे आरंभ हो रात्रि 3.21 बजे पर समाप्त होगा.

सारिका ने बताया कि सूर्य (Sun), चंद्रमा (moon) और पृथ्वी (earth) तीनों के एक ही सीधी रेखा में आने से होने वाली सूर्यग्रहण Solar eclipse की यह खगोलीय घटना चार प्रकार की होती है, जिससे सूर्यग्रहण आशिंक, केकड़ाकार, पूर्ण और हाईब्रिड प्रकार के होते हैं.

उन्होंने बताया कि गत पांच हजार सालों में कुल 11 हजार 808 सूर्यग्रहण surya grahan पड़े हैं, जिनमें सेे आंशिक ग्रहण लगभग 35 प्रतिशत, कंकड़ाकार 33 प्रतिशत, पूर्ण सूर्यग्रहण 27 प्रतिशत और हाईब्रिड करीब पांच प्रतिशत रहे हैं.

Solar eclipse - wikifeed

सारिका ने बताया कि एक वर्ष में कम से कम दो और अधिकतम पांच सूर्यग्रहण surya grahan पड़ सकते हैं. उन्होंने बताया कि 26 दिसम्बर 2019 को भारत के कोयम्बटूर, मदुरै के उत्तर में कंकड़ाकार सूर्यग्रहण का आनंद लिया जा सकेगा, लेकिन पूर्ण सूर्यग्रहण के लिए लम्बा इंतजार करना पड़ेगा.

उन्होंने बताया कि 20 मार्च 2023 को पूर्ण सूर्यग्रहण पड़ेगा, जो कि कारगिल और हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी भागों में देखा जा सकता. इसके बाद तीन जून 2114 को पडऩे वाले सूर्यग्रहण का आनंद देश के मैदानी इलाकों मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार और पश्चिम बंगाल में लिया जा सकेगा.

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.