Diwali 2020 HD Photo - wikifeed
NEWS

Diwali 2020: त्यौहार से पहले जान लीजिए ये खास बातें

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

Diwali 2020: त्यौहार से पहले जान लीजिए ये खास बातें

दिवाली पर्व कार्तिक अमावस्या के दिन मनाया जाने वाला दीपो का त्योहार है। यह हिन्दुओं का बड़ा त्योहार होता है। दिवाली (Diwali 2020) का त्योहार मुख्य रूप से पांच दिन का होता है. दिवाली पर्व की शुरूआत धनतेरस (Dhanteras 2020) से होती है, और इसका समापन भैया दूज के साथ होता है. इस बार ये पर्व चार दिनों का रहने वाला है. छोटी दिवाली और दीपावली (Deepawali 2020) एक साथ ही रहेगी. इसके बाद गोवर्धन पूजा (Govardhan Puja) और भैया दूज (Bhaiya dooj) का पर्व मनाया जाएगा.

Diwali 2020 HD Photo - wikifeed

ऐसे में दीपावली (Deepawali 2020) की तैयारियां पहले से ही होने लगती हैं। लोग अपने घरों की सफाई और सजावट भी करने लग जाते हैं। कहते है कि इस दिन भगवान राम चौदह बरस के वनवास को पूरा करके वापस अयोध्या आए थे जिस कारण से उनके स्वागत में अयोध्या में दीये जलाए गए थे तब से दिवाली (Diwali 2020) का त्योहार मनाया जाता है। आइए जानते हैं दिवाली के त्योहार की तैयारी कैसे की जाती है.

दीपावली (Deepawali 2020) त्यौहार की कुछ खास बातें

दिवाली (Diwali) और धनतेरस (Dhanteras) से पहले ही घर को अच्छी तरह से साफ कर लें. दीवारों पर रंगाई-पुताई का कार्यक्रम धनतेरस से पहले समाप्त हो जाना चाहिए. घर में इस्तेमाल न होने वाले कपड़े और जूते-चप्पल हटा बाहर कर दीजिए. मुख्य द्वार पर भी ऐसी चीजें रहना शुभ नहीं होता है. मुख्य द्वार पर कभी अंधेरा न रहने दें. इस स्थान पर दिये की रोशनी होना काफी शुभ माना जाता है. इसलिए दिवाली से पहले और दिवाली के बाद घर के बाहर भी दिया जलाये रखें.

पूजा के स्थान से पुराने चित्र और मूर्तियां भी हटा दें. फटे हुए चित्र और टूटी हुई मूर्तियों को घर में बिल्कुल स्थान न दें. इन चित्रों और मूर्तियों का विसर्जन भैया दूज के बाद करें. अगर पूजा स्थल पर कोई मूर्ति नहीं हैं तो उस स्थान पर दीपक जलाकर ईश्वर की उपासना करें. अगर किसी नई मूर्ति या सामान की खरीदारी करते हैं तो उसे पूजा स्थान पर रखते जाएं. दीपावली पूजन (Deepawali poojan) के बाद इन चीजों का इस्तेमाल करना आरंभ करें.

यदि दिवाली पर किसी को उपहार देने का मन बना रहे हैं तो ये काम दिवाली से पहले कर लीजिए. त्योहार के दिन किसी को गिफ्ट या पैसे देने से बचें घर के मुख्य द्वार को विशेष रूप से साफ रखें. इस स्थान पर प्रकाश की उत्तम व्यवस्था रखें. यदि ने वस्त्र खरीदे हैं तो उन्हें पहनकर ही पूजा करें. वस्त्रों का रंग नीला, काला या भूरा नहीं होना चाहिए. दीपावली (Deepawali) की सफाई अगर किसी से करवाते हैं तो उसे कुछ धन अवश्य दें.

धनतेरस (Dhanteras 2020) के दिन सारी रात दीपक जलाएं

दीपावली के पहले दिन यानि धनतेरस (Dhanteras) के दिन लोग सोने-चांदी या नए बर्तन की खरीदारी करते हैं और लक्ष्मी जी के आगे दीये जलाते हैं। नरक चतुर्दशी के दिन मृत्यु के देवता यमराज के लिए असमय मृत्यु के भय से बचने के लिए सारी रात दीपक जलाएं जाते हैं। कहा जाता है कि इस दिन भगवान कृष्ण ने नरकासुर राक्षस का वध किया था तब से छोटी दीपावली को नरक चतुर्दशी के नाम से भी जाना जाता है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.