blue way | wikifeed.in
NEWS Sports Technology

After all, what is this Blue Way game that has killed more than 250 people in the world so far

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आखिर क्या हे ये ब्लू वेल गेम, जो अब तक सैकड़ों लोगों की जान ले चुका है यह किस कारण इंटरनेट गेम किसी की जान ले सकता हे। अभी एक तो नहीं लगता था की ऐसा नहीं हो सकता और नहीं विस्वास था की कोई इंटरनेट भी किसी की जान ले सकता हे लेकिन ऐसा हुआ हे और एक के साथ नहीं बल्कि सेकड़ो लोगो की जान ले चूका हे अब तक “ब्लू वेल गेम “(Blue Whale) बताया जा रहा की इस ब्लू वेल नाम का यह गेम इंटरनेट पर आया हे यह गेम एक जान लेवा गेम बन चूका हे.

आखिर ऐसा क्या हे इस ब्लू वेल गेम में जो की दुनिया में अब तक 250 से भी ज्यादा लोगो की जान ले ली हे। इस गेम को खेलने से सबसे ज्यादा रूस में इसका प्रभाव पड़ा हे रूस में अभी तक इस गेम के दुवार ही 130 लोगो की मोत हो चुकी हे। और कहा जा रहा हे की रूस के आलावा और भी कई देश हे जो इस गेम का शिकार हो चुके हे इनमे अभी तक पाकिस्तान और अमेरिका भी शामिल अब तक 19 देशो में इस गेम की वजह से खुदकुशी के बहुत से मामले सामने आए हे.

और अब तक तो सिर्फ और सिर्फ भार विदेशो में यह दुर्घटना हो रही थी लेकिन अब हमारे देश में भी इस ब्लू वेल गेम के सीकर बन रहे हे और उनकी गिनती में भी हमारा देश भी शामिल हो चूका हे।

manpreet sharma | wikifeed.in

और लोग अपनी जान गवाने लगे हे। 30 जुली को मुंबई में एक बच्चा इस ब्लू वेल गेम को खेल रहा था अचनाक क्या हुआ की वह खेलते-खेलते खुद खुसी के लिए उस 14 साल लड़के ने सातवीं मंजिल से कूदकर जान देदी थी। और बताया जा रहा हे की वो लड़का भी ब्लू वेल गेम ही खेल रहा था। बताया जा रहा की इस गेम की आखिरी स्टेज पर आने पर प्लेयर को खुदकुशी करने को कहा जाता हे.और उस लड़के ने ऐसा ही किया उसने भी अपनी खुदकुशी कर ली थी। भारत में अभी इस तरह का कोई मामला सामने नहीं आया हे।

रिपोर्ट के मुताबिक अंधेरी ईस्ट का रहने वाला मनप्रीत साहस 9 वि क्लास में पड़ता था। शनिवार को उसने सातवीं मंजिल से कूद कर जान दे दी थी वह घर में वो अपने ममी -पापा और दो बड़ी बहन के आठ रहता था उस लड़के का सपना पायलेट बने का था और टर्निंग के लिए रूस जाना चाहता था परन्तु उस लड़के का सपना रह गया था.उस लड़के ने ब्लू वेल गेम को खेलते ही अपनी जान ग्वादी और रिपोर्ट के मुताबिक पता लगा ही की यह ब्लू वेल गेम रूस में ही बनाया गया था।

blue whale challenge | wikifeed.in

इंटरनेट पर खोजा था छत से कूदने का तरीका
सुसाइड केस की जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि मनप्रीत ने छलांग लगाने से पहले इंटरनेट पर सर्च किया था कि छत से छलांग कैसे लगाई जाती है. मनप्रीत ने शुक्रवार को ही दोस्तों को बता दिया था कि वो सोमवार को स्कूल नहीं आएगा. शनिवार को छलांग लगाने से पहले मनप्रीत ने करीब 20 मिनट तक घर की छत पर बैठकर अपने दोस्तों से बात की. मनप्रीत ने गेम के आखिरी टास्क को लेकर छत से छलांग लगाने का भी जिक्र किया. उसने चैटिंग में लिखा कि अब आप लोग मुझे सिर्फ तस्वीरों में ही देखोगे, लेकिन किसी ने उसकी बात को गंभीरता से नहीं लिया. बाद में पता चला कि उसने खुदकुशी कर ली

50 स्टेज में पूरा होता है गेम
इस गेम को रूस में 2013 को फिलिप बुडेकिन ने बनाया था इस खेल को कैसे खेला जाता हे। पहले इस खेल में एक एडमिन होता हे जो खेलने अगले 50 दिनों तक उसको बताते रहता हे की उसे आगे क्या करना हे। और इस गेम का यह एक रूल था की इस गेम को खेलने वाले को अंतिम दिन खुदकुशी करनी होती हे और उसे पहले एक सेल्फी लेकर उस गेम पर अपलोड करनी होती हे

इस गेम खेलने वाले को रोज एक कोड नम्बर दिया जाता हे जो की वह कोड एक हॉरर से जुड़ा होता हे इसमें हाथ पर बलेड से F57 लिखकर एक फोटो अपलोड करने के लिए कहा जाता हे और इस खेल को खेल ने के लिए रोजाना एक ऐसा ही कोड होता जो की अपने शरीर पर कुछ न कुछ बैलेड से लिखना पड़ता हे। इस गेम का एडमिन स्काइप के जरिए खेल ने वाले से बात करता रहता हे। और हर टास्क में पूरा हो जाने पर बैलेड से हैट पर एक कट लगाने को कहा जाता हे और उसकी फोटो अपलोड करने को कहा जाता हे और इस गेम का विनर उसको ही घोसित किया जाता हे जो गेम के अंतिम दिन अपनी जान देदेता हे

blue whale | wikifeed.in

गेम छोड़ने पर मिलती है धमकी
और एक बार इस गेम को खेलने के लिए शुरू हो गए तो फिर इस गेम को तब तक नहीं छोड़ा जाता की जबतक यह पूरा नहीं हो जय यदि कोई इस गेम को बिच में ही छोड़ना चाहता हे तो इस गेम का एडमिन गेम खेल ने वाले के फोन को एडमिन हैक कर लेता हे और फोन की सारी डिटेल उसके कब्जे में आ जाती हे.अगर कोई बीच में गेम छोड़ना चाहे तो उसे एडमिन की तरफ से धमकी मिलती हे उसको या फिर उसके माता-पिता को जान से मार दिया जायगा।

जेल में है गेम बनाने वाला
यह गेम 2013 में रूस में बना था, लेकिन सुसाइड का पहला मामला 2015 में आया था. इसके बाद गेम बनाने वाले फिलिप को जेल भेज दिया गया. जेल जाने के दौरान अपनी सफाई में फिलिप ने कहा था कि ये गेम समाज की सफाई के लिए है. जिन लोगों ने भी गेम की वजह से आत्महत्या की, वो बॉयोलॉजिकल वेस्ट थे.

ब्रिटेन में लॉन्च होने वाला है गेम
250 से अधिक मौतों के बाद भी इस गेम को दुनिया के किसी भी देश में बैन नहीं किया गया है. ये अभी तक ब्रिटेन में लॉन्च नहीं हुआ है, लेकिन अब वहां भी इसे लॉन्च करने की तैयारी चल रही है. ब्रिटिश वेबसाइट metro.co.uk के मुताबिक बेसिलडोन के वुडलैंड्स स्कूल के प्रिंसिपल डेविड राइट ने बच्चों के माता-पिता को आगाह करते हुए एक पत्र लिखा है. उन्होंने लिखा कि पुलिस की मदद से उन्होंने एक गेम का पता लगाया है, जिससे लोगों को सावधान रहने की जरूरत है. यह ब्लू वेल नाम का गेम है, जो कई सोशल मीडिया वेबसाइट्स पर खेला जाता है. इसमें खेलने वाले को आखिरी दिन जान देकर गेम जीतना होता है.

pokemon | wikifeed.in

ऐसी ही एक गेम पोकेमान गो ने भी हगामा मचाया था। ये जान लेवा भले ही नहीं था लेकिन काम धाम छोड़ कर पोकेमॉन पकड़ने निकल जाते थे हालांकि, कुछ महीनों बाद इसके क्रेज में कमी आ गई है. भारत में अब भी ये गेम आधिकारिक तौर पर लॉन्च नहीं हुआ है

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Add Comment

Click here to post a comment